SAHAY Yojana Jharkhand[15 Dec] | झारखण्ड नक्शल प्रभावित क्षेत्रो में युवाओं को प्रोत्साहन

SAHAY Yojana Jharkhand | झारखंड सहाय योजना | हेमंत सोरेन सहाय योजना | खेल सहाय योजना झारखंड

झारखण्ड में नक्शल प्रभावित क्षेत्रो में उन्हें भय से दूर करने एवं युवावों के हुनर को निखारने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा खेल नर्सरी द्वारा उन्हें लाभ पहुंचने की पहल कर दी गयी है।

इस सहाय योजना द्वारा राज्य लगभग सभी नक्शलवादी के कारन प्रभावित क्ष्रेत्रों में युवाओं को खेल में प्रोत्शाहित किया जाएगा।

यह योजना अभी अपने प्रथम चरण में है। एवं यह वर्ष 15 दिसंबर, 2021 से प्रारम्भ की गयी है। इसके बाद के सभी कार्य जैसे सुविधा को ऑनलाइन करना , खेल मेला आयोजन करना , युवाओं को प्रोत्साहन रकम आदि अनेक काम किये जाएंगे।

इस लेख में हम आपको कुछ आवश्यक जानकारी साझा करेंगे जो आपको इस योजना के विषय में एवं भविष्य में योजना द्वारा होने वाले लाभ को दर्शाएंगे।

SAHAY Yojana Jharkhand 2022

सहाय यह झारखण्ड के नक्शल से प्रभावित क्षेत्रो में युवाओं के भय को कम कर उनके प्रतिभा को उजागर करने वाली एक योजना है।

सहाय(SAHAY) योजना का पूरा नाम Sports Action towards Harnessing Aspiration of Youth है।

“वर्षों से झारखंड के कुछ क्षेत्र नक्सल प्रभावित रहा है, लेकिन इसे भयावह बनाने का प्रयास अन्य लोगों द्वारा किया गया, जो यहां के आदिवासी, मूलवासी, भाषा, संस्कृति और परंपरा के संबंध में नहीं जानते।

उन लोगों ने जैसा चित्र गढ़ दिया, उससे उबर नही रहे हैं। हमें इस चित्र को बदलने का प्रयास करना है। झारखण्ड के सुदूरवर्ती जंगलों में मुस्कान का वातावरण बनाना है।

खेत, खलिहान, कस्बों में सकारात्मक वातावरण सृजन का प्रयास होगा, जिससे हमारे नौजवानों को कोई बहला-फुसला ना सके।”

हेमंत सोरेन (झारखण्ड के मुख्यमंत्री )

झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा यह योजना 15 दिसंबर 2021 से प्रारम्भ किया गया है। योजना के द्वारा नक्शल प्रभावित क्षेत्रो के युवाओं को लाभ पहुँचाने के लिए किया गया है।

यह अनाउंसमेंट मंत्री द्वारा चाईबासा में आयोजित प्रमंडल स्तरीय आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वारा कार्यक्रम में किया गया था।

इस योजना के अंतर्गत युवाओं को खेल के लिए प्रोत्साहित किया गया है। इससे इनकी प्रतिभा को उजागर किया जाएगा।

इसके जरिये इन क्षेत्रो के लड़के एवं लड़कियों को योजना के तहत खेल स्पर्धा में जोड़ा जाएगा।

योजना के अंतर्गत शुरुआती फेज में जिन नक्शल प्रभावित क्षेत्रो को जोड़ा गया है ,वे निम्न है ;

  • पश्चिमी सिंहभूम
  • चाईबासा
  • सरायकेला-खरसावां
  • सरायकेला
  • खूंटी
  • सिमडेगा
  • गुमला

SAHAY Yojana Jharkhand के उद्देश्य

सहाय योजना झारखण्ड अभी अपने शुरुआती फेज में है , और यह योजना अपने इन उद्देश्यों के साथ आगे बढ़ रही है ;

  • खेल जगत में झारखण्ड की पहचान बढ़ाने के लिए।
  • नक्शल क्षेत्रो के लिए भय को दूर करना।
  • इन क्षेत्रो के युवाओं को प्रोत्साहन देना।
  • खेल एवं खेल प्रतिभा को बढ़ावा देना।
  • हर स्तर पर खेल का आयोजन करना।

झारखण्ड राज्य के अन्य योजनाएं

SAHAY Yojana Jharkhand के लाभ

सहाय योजना यह अभी इसी 2021 के वर्षांत में प्रारम्भ की गयी है , अतः इसके लाभ के अभी अधिक उदाहरण मौजूद नहीं। परन्तु योजना के साथ निम्न लाभों को जोड़ा गया है ;

  • नक्शल क्षेत्रो में भय दूर होगा।
  • युवाओं के प्रतिभा परखी जायेगी।
  • राज्य को खनिज के साथ खेल में भी पहचान प्राप्त होगी।
  • योजना में 14 से 19 के लड़के एवं लड़कियों को शामिल किया गया है।
  • प्रतियोगी विजेता को प्रोत्साहन राशि प्रदान किया जाएगा।
  • प्रत्येक स्तर पर खेल का आयोजन किया जाएगा।
  • योजना में सभी खेलो को जोड़ा गया है।

SAHAY Yojana Jharkhand का कार्यान्वयन

हेमंत सोरेन द्वारा यह योजना प्रारम्भ की गयी है। योजना में प्रथम चरण में 10 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

सहाय योजना में शुरुआत में शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो से युवाओं का रजिस्ट्रेशन कराया जाएगा। यह संख्या 72 हजार बताई गयी है।

योजना में 14 से 19 वर्ष तक के लड़के-लड़किओं को खिलाड़ी के तौर पर जोड़ा गया है , जो ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रो में निम्न प्रकार चयनित होंगे ;

  • ग्रामीण क्षेत्रो में ग्राम पंचायत द्वारा
  • शहरी क्षेत्रो में वार्ड द्वारा

रजिस्ट्रेशन का यह कार्य बीडीओ नगर निकाय में सीइओ द्वारा किया जाएगा। खिलाडियों को सम्बंधित खेलो के अनुसार सुरक्षा सामग्री ,जर्सी एवं शॉर्ट्स भी प्रदान किये जाएंगे।

इन सभी रजिस्टर्ड खिलाड़िओं का डाटा बेस तैयार किया जाएगा , उसके बाद ग्राम पंचायत एवं शहरी वार्डो द्वारा हॉकी, फुटबॉल, बॉलीबॉल, एथलेटिक्स समेत अन्य खेलों के लिए विभिन्न टीमों बनाया जाएगा।

फिर इन खेलो के प्रतियोगता का आयोजन किया जाएगा, एवं इसके पश्चात तीन सर्वश्रेष्ठ खिलाडी (लड़के एवं लड़कियों) को चयन किया जाएगा, एवं इन्हे प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित किया जाएगा।

1 thought on “SAHAY Yojana Jharkhand[15 Dec] | झारखण्ड नक्शल प्रभावित क्षेत्रो में युवाओं को प्रोत्साहन”

Leave a Comment

error: Content is protected !!
YouTube