MP E-Uparjan 2023 @mpeuparjan.nic.in: रबी-खरीफ बिक्री स्लॉट बुकिंग

4.8/5 - (5 votes)

क्या आप MP E Uparjan 2022-23 की जानकारी खोज रहे है? तो आप एक सही स्थान पर आये है। हम किसानो से जुड़ी सभी योजनाओ, महत्वपूर्ण जानकारी एवं लाभकारी न्यूज़ आदि के विषय में लिखते आ रहे है।

यदि आप ने घर की नीव नहीं बनाई तो घर मजबूत नहीं होगा।

इसलिए हम आपको MP e-Uparjan Portal पर केवल किसान पंजीकरण प्रक्रिया तथा उपयोग करना नहीं बताएंगे बल्कि किसानो को कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जो आपको एक जागरूक किसान बनने में मदद करेगा वो भी समझायेंगे।

यदि आप एक सामान्य किसान है, तो यह लेख आपको एक जागरूक किसान बनने में मदद करेगा जिससे आप अपने अधिकार को सरलता से समझ सके।

हम लेख की शुरुआत मध्यप्रदेश के किसानो की स्तिथि, विकास की जानकारी से करते है:

Mdhya Pradesh Farmers Report (एमपी किसानो का योगदान)

देश के कुल सोयबीन उत्पादन का 60% उत्पादन करने के कारण मध्य प्रदेश देशभर में “Soya Pradesh” की तरह जाना जाता है।

मध्य प्रदेश के अंतर्गत कुल भूमि का 49.43% भूमि किसानी के उपयोग में ली जाती है। इन भूमि में सभी प्रकार के किसान अनाज उत्पादन करते है।

किसानसंख्या (लगभग)
छोटे एवं सीमांत किसान (2 हेक्टेयर खेत)80 लाख
अर्ध मध्यम किसान (2 हेक्टेयर से 4 हेक्टेयर खेत)17 लाख
मध्यम किसान (4 हेक्टेयर से 10 हेक्टेयर खेत)7 लाख
बड़े किसान (10 हेक्टेयर एवं उससे ज्यादा )63 हजार
2018-19

मध्य प्रदेश में महत्तम किसान अपने खेतो की सिंचाई कैनाल, टैंक, टूबेल एवं अन्य स्त्रोत द्वारा करते है। जिसमे सबसे अधिक खेत कुओं एवं नलकूपों से सिंचित किये जाते है।

MP E-UPARJAN Yojana Portal की आवश्यकता क्यों?

आप देख सकते है कि मध्य प्रदेश में लगभग 80 लाख छोटे एवं सीमांत किसान है। इन किसान द्वारा राज्य का सबसे अधिक भूमि खेती के उपयोग में लिया जाता है।

छोटे एवं सीमांत किसान देश के सबसे अधिक अनाज उत्पादन में भाग लेते है, तथा बड़े किसानो से अधिक प्रोडक्टिव होते है।

परन्तु इन किसानो को कई समस्या का सामना करना पड़ता है, जैसे:

  • महत्तम किसान पढ़े-लिखे नहीं होते है।
  • इन किसानो की आय कम होती है।
  • आय कम होने की वजह से महत्तम किसानो के पास यंत्रो की कमी होती है।
  • कई बार बिचौलियों द्वारा इन किसानो का शोषण में हो जाता है।

इन सभी परेशनियों को दूर करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा कई योजना एवं सेवाओं को प्रारम्भ किया गया है जैसे पीएम किसान सम्मान निधि योजना, MP Bhulekh Portal, MP eDistrict Portal आदि।

इसी में किसानो को उनके अनाज के विक्री पर किसी प्रकार की शिकायत, पैसे की फिक्र एवं बिचौलियों से बचाने के लिए एक पारदार्शिता वाली सेवा E-Uparjan को प्रारम्भ किया गया है। 👇

MP E-UPARJAN Yojana Portal 2022

MP E UPARJAN यह एक सॉफ्टवेयर है, जो किसान को बेचने एवं उपार्जन केंद्र से अनाज खरीदने में मदद करती है। यह किसान-उपार्जन केंद्र के बीच की कड़ी का कार्य करता है।

ई-उपार्जन साफ्ट्वेय़र के द्वारा उपार्जन केंद्र द्वारा संग्रहण केन्द्र को किसानो से ख़रीदे गए अनाज का Transport किया जाता है। इसकी जानकारी किसान को प्राप्त नहीं होती है।

e-Uparjan Yojana राज्य के किसानो को लाभ पहुंचाने के लिए शुरू किया गया है।

e-Uparjan Application के द्वारा पूरे मध्यप्रदेश के हर जिले के अनाज (गेहूं,धान,ज्वार ,बाजरा,चना ,मसूर ,सरसों आदि) की मोनिटरिंग की जाती है।

मध्य प्रदेश के जो किसान रबी-खरीफ सीजन के दौरान न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर अनाज बेचना चाहते है, वे MP-euparjan Application के द्वारा Kisan Panjiyan कर कर सकते है।

  • किसान स्वयं ऑनलाइन अपना Kisan Panjikaran कर सकते है।
  • योजना के अंतर्गत सभी किसान लाभ उठा सकते है।
  • इससे किसानो के विक्री प्रक्रिया में सरलता होगी।
  • किसान की भुगतान राशि सीधे किसान के बैंक खाता में जमा की जाएगी।
  • किसान को पंजीयन और खरीदी की पावती पर्ची भी दी जायगी ।
पोर्टल का नामएमपी ई उपार्जन
किसने शुरू कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्यसमर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए आवेदन करना
आधिकारिक वेबसाइटmpeuparjan.nic.in

MP E-Uparjan Process

एक किसान का कार्य पोर्टल पर केवल अपना Registration कराने के पश्चात Slot Book कर उपज को नजदीकी चुने गए उपार्जन केंद्र पर बेचना होता है। 

परन्तु सरकार द्वारा पारदर्शिता के लिए ये 6 कार्य ऑनलाइन पूर्ण किये जाते है:

  1. e-Uparjan Online Registration
  2. सन्देश द्वारा रजिस्टर हुए किसानो को खरीदी की जानकारी देना
  3. उपार्जन केंद्र से किसान की खरीदी करना
  4. खरीदे गए अनाज काट्रांसपोर्ट करना
  5. परिवहन किये गए अनाज का गोदाम में संग्रहण
  6. किसान के बैंक खाते में खरीद की सीधे भुगतान

इन कार्यो के लिए राज्य भर में जितने उपार्जन केंद्र (Procurement Centers) एवं Data Entry Operator आदि।

Wheat Procurement System (गेहूं खरीद प्रणाली)

Procurement Centers2830
Runners708
Data Entry Operator2830
Farmers sold their crops per day12834

Paddy/Coarse Grain Procurement System धान/मोटे अनाज की खरीद प्रणाली

Procurement Centers2830
Runners708
Data Entry Operator2830
Farmers sold their crops per day12834

किसान MP E Uparjan 2022-23 का उपयोग कैसे करें?

यदि आप एक किसान है, तो आपको सबसे पहले जान लेना चाहिए कि एक उपज की बिक्री कैसे होती है। इससे आपको इस पोर्टल के उपयोग को समझने में अधिक मदद मिलेगी।

एक किसान अपनी उपज को इन प्रकार से बेच सकते है:

  • सीधे ग्राहक को
  • एक उत्पादक को
  • लोकल ट्रेडर्स/व्होलसेलर
  • मंडी (सरकारी उपार्जन केंद्र)

ऊपर के तीन विक्री के अंतर्गत लाभ अधिक मालुम पड़ता है परन्तु Price, Return Guarantee, Security, Fraud आदि का सामना करना पड़ सकता है।

यह बड़े एवं समृद्ध किसानो के लिए सरल होता है, परन्तु छोटे एवं सीमांत किसान को लिए कठिनायी खड़ी कर सकता है। इसलिए आपको केवल Mandi (मंडी) के अंतर्गत अपने आनाज को बेचना चाहिए।

पहले किसान को मंडी पहुंच कर अपना जगह बनाना होता था ताकि आप जल्द अपना उपज बेचकर आय प्राप्त कर सके। इस समय आपको विक्री रशीद के सहारे रकम प्राप्त करने के लिए समय लगता था।

परन्तु अब सरकार द्वारा यह प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी गयी है। आप घर बैठे अपना Mandi में स्लॉट बुक कर उसी दिन तुरंत उपज बेच सकते है।

आपको (किसान) केवल अपना MP E Uparjan 2022-23 Online Registration करना होता है उसके पश्चात अपने उपज के लिए Slot Book करना होता है। इसके बाद के सभी क्रियकलाप E-Uparjan अर्ताथ सरकार द्वारा किया जाता है।

NOTE 
> जब आप अपने उपज को विक्री के लिए मंडी जाते है, तो उसकी कीमत आपके (किसान) द्वारा तय नहीं की जाती है। 
> यह कीमत सरकार द्वारा उचित विवरण के आधार पर किया जाता है जिसे Minimum Support Price (MSP) कहते है। 
>हर वर्ष की MSP जाँच करने के पश्चात ही आप MP E Uparjan पर आप अपना Slot Book करें। आप इसे farmer.gov.in/mspstatements.aspx पर जांच सकते है। 

MP e Uprajan Registration 2022-23

यदि आप अपना रबी अथवा खरीफ फसल को बेचने के लिए Slot Book करना है तो आपको अपना किसान पंजीकार करना होगा।

आधिकारिक वेबसाइट पर e-Uparjan Kisan Panjikaran की प्रक्रिया हमने स्टेप-बय-स्टेप निचे लेख में दर्शाया है। आप इसे निचे विस्तार से पढ़ें:

FAQs

मध्यप्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल का उपयोग कौन कर सकते है?

मध्यप्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल का उपयोग सभी किसान जो न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर अपने अनाज को बेचना चाहते है वे कर सकते है।

MP E-Uparjan 2022-23 पर किसान अपने उपज कैसे बेचता है?

MP E-Uparjan 2022-23 पर किसान सीधे नहीं बेचता है। एक किसान को निम्न प्रक्रिया अपनानी होती है।
> अपना MP E-Uparjan Kisan Panjikaran करना होता है।
> आपको एक Kisan Code प्रदान किया जाता है।
> इसका उपयोग कर आप Slot Book करते है।
> E-Uparjan द्वारा आपको एक खरीद (तारीख) के लिए SMS प्रदान किया जाता है।
> आपको इसी दिन अनाज की बिक्री करनी होती है।
> अंत में E-Uparjan द्वारा आपके कहते में एक सप्ताह के अंतर्गत खरीद की रकम Bank Account में प्रदान कर दी जाती है।

Leave a Comment

Budget 2023-2024: महिला सम्मान बचत पत्र योजना क्या है? PM Kisan Yojana की 13वी क़िस्त आ रही है, जानें आप कैसे अपना रु 2000 चेक करें UP Kisan Karj Mafi News: उत्तर प्रदेश किसान कर्ज माफ़ी लिस्ट जारी प्रधानमंत्री आवास योजना की नयी 2023 की लिस्ट में अपना नाम देखें। जानें आपको 1 लाख 20 Now You Can Easily Book Free Sabrimala Virtual Q Darshan Ticket For Pooja Online