मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022: आवेदन एवं पैसा चेक करें

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana 2022 | UP Kanya Sumangala Yojana 2022-23

महिला सशक्तिकरण तथा महिलाओं के उत्थान के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा अनेकों योजनाओं की घोषणा करी जाती है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा नारी सशक्तिकरण के लिए साल 2019 में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया जिसके अंतर्गत नवजात बालिकाओं से लेकर उच्चतर शिक्षा प्राप्त करने वाली बालिकाओं को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रधान करी जाती है।

इस आर्टिकल के अंदर हम मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022 के विषय में चर्चा करेंगे जिसमें मुख्यमंत्री सुमंगला योजना के लिए आवेदन, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के उद्देश्य, लाभ को विस्तार से बताएंगे।

अगर आप उत्तर प्रदेश मैं रहते हैं तथा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तब आपको निम्नलिखित आर्टिकल अंत तक पढ़ना चाहिए।

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की शुरुआत 1 अप्रैल 2019 में नारी सशक्तिकरण की दिशा एक और कदम बढ़ाते हुए घोषणा करी।

नारी सशक्तिकरण को सफल बनाने के लिए पहले से चली आ रही है नारी कल्याण योजनाओं को अधिक सुदृढ़ बनाने के लिए इस योजना की घोषणा करी गई।

उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले नागरिक बालिकाओं का नाम इस योजना में पंजीकृत करा सकते हैं जिसके तहत विभिन्न चरणों के अनुसार अभिभावकों को एक रतन आजाद भरी जाएगी जो 2000 से लेकर 5000 तक के बीच में है।

विभिन्न श्रेणियों के अनुसार अभिभावक अपने घर की लड़कियों का पंजीकरण करा सकते हैं।

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana में पंजीकृत होने के पश्चात बालिकाओं को विभिन्न लाभ मिलेंगे तथा प्रदेश में महिलाओं की सामाजिक आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाया जा सकेगा।

Highlights Of UP Kanya Sumangla Yojana

योजना का नामMukhyaMantri Kanya Sumangla Yojana (MKSY)
विभागमहिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश
किसने प्रारम्भ कियामुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
कब प्रारम्भ हुआ 1 अप्रैल 2019 (चरण-6)
योजना का उद्देश्यबालिका (कन्या) के जन्म को महत्त्व देना, परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करना
योजना का बजट1200 करोड़ रुपए
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन एवं ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटmksy.up.gov.in

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के उद्देश्य

2019 में प्रारंभ हुई इस योजना तालाब आज उत्तर प्रदेश की हजारों बालिकाओं तक पहुंचा दिया जा चुका है तथा यह काम आगे भी जारी है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का प्रारंभ लिखित उद्देश्यों को ध्यान में रखकर किया गया था:

  • उत्तर प्रदेश में महिलाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा की स्थिति को मजबूत करना।
  • कन्या भ्रूण हत्या जैसी अमानवीय घटनाओं को कम करना तथा निवासियों को मानसिक रूप से कन्याओं के लिए दयावान बनाना
  • उत्तर प्रदेश राज्य में सम्मान लिंगानुपात की व्यवस्था स्थापित करना है।
  • बाल विवाह जैसी असामाजिक कुरीति का खंडन करना।
  • बालिका को जन्म देने वाले परिवारों को राज्य द्वारा आर्थिक सहायता देना जिससे बालिका की परवरिश अच्छी तरीके से करी जा सके।

यूपी मुख्यमंत्री सुमंगला योजना की 6 श्रेणियां

उपरोक्त प्रदान की जाने वाली राशि उत्तर प्रदेश राज्य के नागरिकों को विभिन्न श्रेणियों के अंतर्गत प्रदान की जाएगी जिसका उल्लेख निम्नलिखित है:

श्रेणी पात्रता/नियमलाभार्थी धनराशि
प्रथम श्रेणीइस श्रेणी के अंतर्गत जिन कन्याओं का जन्म 01 अप्रैल 2019 या उसके पश्चात हुआ हो, इस योजना का लाभ ले सकते है।2000
द्वितीय श्रेणीइस श्रेणी में उन बालिकाओं को सम्मिलित किया जाएगा जिनका एक वर्ष के अंदर सम्पूर्ण टीकाकरण हो चूका हो और उनका जन्म 01 अप्रैल 2018 से पूर्व न हुआ हो।1000
तृतीय श्रेणीतृतीय श्रेणी के अंतर्गत वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान प्रथम कक्षा में प्रवेश लिया हो।2000
चतुर्थ श्रेणीचतुर्थ श्रेणी के अंतर्गत वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान छठी कक्षा में प्रवेश लिया हो।2000
पंचम श्रेणीपंचम श्रेणी के अंतर्गत वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान नवीं कक्षा में प्रवेश लिया हो।3000
षष्टम श्रेणीषष्टम श्रेणी के अंतर्गत वह बालिकायें सम्मिलित होंगी जिन्होंने 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करके चालू शैक्षणिक सत्र के दौरान स्नातक -डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लिया हो।5000

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लाभ

योगी आदित्यनाथ सन 2019 में किस योजना का शुभारंभ किया था इसके पश्चात अनेकों उत्तर प्रदेश के निवासियों ने अपनी बालिकाओं का पंजीकरण किस योजना में कराया था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कन्या सुमंगला योजना के लाभ निम्नलिखित हैं:

  • सन 2019 के बाद से जन्मी कन्या के अभिभावक को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत ₹2000 की एकमुश्त रकम तुरंत बैंक खाते में प्रदान करी जाएगी।
  •  बालिका की 1 वर्ष पूरे होने के पश्चात तथा टीका लगने के पश्चात् सरकार द्वारा अभिभावकों के बैंक खाते में ₹1000 की एक रत्न प्रदान करें जाएगी।
  • प्रथम कक्षा में बालिकाओं का नामांकन कराने के पश्चात् राज्य सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत ₹2000 की एकमुश्त अभिभावकों को दी जाएगी
  • इसी प्रकार छठी कक्षा में सफलतापूर्वक नामांकन कराने के पश्चात छात्रा के अभिभावकों के बैंक खाते में ₹2000 की एकमुश्त रकम सहायक राशि के तौर पर दी जाएगी।
  • कक्षा 9 के अंदर नामांकन करने के पश्चात छात्रा के अभिभावकों को ₹3000 की आर्थिक सहायता राज्य सरकार द्वारा प्रदान करें जाएगी।
  • ऐसी छात्राएं जिन्होंने 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर ली है तथा इसके पश्चात उच्चतर शिक्षा प्राप्त करना चाहती हैं या 2 वर्षीय डिप्लोमा करना चाहती हैं उनको भी ₹5000 की एकमुश्त रकम से सहायता करी जाएगी।

Eligibility Criteria For UP Mukhyamantri Kanya Sumangla Yojana 2022-23

यूपी मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आवेदन कर्ताओं को निम्नलिखित शर्तों को पूरा करना आवश्यक है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की पात्रता पूरी ना करने पर आवेदन कर्ताओं को इस योजना का लाभ नहीं होगा:

  • आवेदन करता उत्तर प्रदेश राज्य का निवासी हो जिसके पास उत्तर प्रदेश में रहने का प्रमाण पत्र भी हो।
  • प्रमाण पत्र के तौर पर राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बिजली का बिल तथा टेलिफोन बिल ही को स्वीकार किया जाएगा।
  • आवेदक की वार्षिक आय ₹3,00,000 से कम होनी चाहिए।
  • एक परिवार से कुल दो कन्याओं को ही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ प्राप्त हो पाएगा।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक है कि परिवार में कुल बच्चों की संख्या 2 से अधिक न हो।
  • यदि पहली संतान कन्या है तथा दूसरी संतान के रूप में जुड़वा कन्याओं ने जनम लिया हो ऐसी स्थिति में उन तीनों कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • यदि कोई परिवार किसी कन्या को कानूनी रूप से गोद लेते हैं ऐसी स्थिति में उस परिवार की कुल 2 कन्याओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में आवेदन के लिए नाबालिक कन्या के अभिभावक अपने नाम से आवेदन करेंगे 18 वर्ष की आयु से अधिक कन्या स्वम अपने नाम से आवेदन करेगी।

Documents for UP Kanya Sumangla Yojana

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना मैं आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करना अति आवश्यक है।

दस्तावेजों के गलत अपलोड या कमी के कारण आपका आवेदन निरस्त करा जा सकता है।

  • अभिभावक तथा कन्या का संयुक्त फोटो
  • अभिभावक तथा कन्या का आधार कार्ड
  • वार्षिक आय का प्रमाणपत्र
  • बैंक खाते की पासबुक
  • निवास प्रमाणपत्र
  • बालिका का नवीनतम फोटो
  • विधिक पत्र (गोद लेने की स्थिति के लिए)

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन 2022-23

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही तरह की हैं।

हम यहां विश्वास है ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया तथा ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में बताएंगे।

Mukhyamantri Kanya Sumangla Yojana Apply Online

  • इसके पश्चात आप की स्क्रीन में डैशबोर्ड ओपन हो जाएगा।
  • जहां आपको नागरिक सेवा पोर्टल के लिंक पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से संबंधित नियम व शर्तें लिखी आएंगी।
  • आपको उनको पढ़ना है तथा अंत में मैं सहमत हूं पर क्लिक करके कंटिन्यू करना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक ऑनलाइन फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपको सभी जानकारियां सही-सही भरनी होगी
  • अंत में मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुआ OTP टाइप करें
  • OTP जमा कराने के बाद आप आपको यूजर आईडी और पासवर्ड बता दिया जाएगा।
  • अब आपको यूजर आईडी तथा पासवर्ड से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लिए लॉगइन करना है।
  • लॉग इन करने के पश्चात आपको संबंधित योजना का चयन करें उससे संबंधित डॉक्यूमेंट अपलोड करने हैं।
  • पूरा फॉर्म घर जाने के बाद आप आवेदन फॉर्म का प्रिंट निकाल लेना है।

Mukhyamantri Kanya Sumangla Yojana Apply Offline

  • ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको सर्वप्रथम खंड विकास अधिकारी/SDM तथा इसी पद के अन्य अधिकारियों के दफ्तर जाना होगा
  • आवेदन के लिए आप साइबरकैफे से भी डाउनलोड कर सकते हैं।
  • तथा सरकारी दफ्तर के लिए आपको निशुल्क प्रदान किया जाएगा।
  • पूछी गई जानकारी को सही-सही भरें तथा अधिकारी के दफ्तर में जमा करा दें।
  • आपके द्वारा ऑफलाइन भरे गए फॉर्म कांड विकास अधिकारी द्वारा जिला परिवेक्षा अधिकारी तक पहुंचा दिए जाएंगे।
  • जो इन ऑफलाइन फॉर्म हो जनपद लॉगइन के माध्यम से ऑनलाइन अपलोड कर देना।
  • इसके पश्चात की प्रक्रिया ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन कर्ताओं के लिए समान रहेगी।

FAQ: UP Kanya Sumangla Yojana

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत धनराशि किस प्रकार प्राप्त होगी?

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में आवेदन के पश्चात इसकी जांच होगी तथा जांच पूरी होने के पश्चात संबंधित राज आवेदन करता के बैंक खाते में जमा करा दी जाएगी।

यूपी मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत कितनी राशि प्राप्त होगी?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा करी है कि कुल ₹15000 की रकम विभिन्न श्रेणियों के माध्यम से प्रति आवेदनकर्ता के घर तक पहुंचाई जाएगी।

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana के लिए आवेदन की अंतिम तिथि क्या है?

उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा अभी तक अंतिम तिथि की घोषणा नहीं करी गई है। उत्तर प्रदेश में रहने वाले इच्छुक निवासी इस योजना के लिए आवेदन अभी भी कर सकते हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!
YouTube