इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन करें (फ्री भर्ती)

राजस्थान सरकार अपने राज्य के ग्रामीण क्षेत्र में “महात्मा गाँधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना” द्वारा रु 235 प्रति दिन मजदूरी प्रदान करती है। यह वर्ष में 100 दिन प्रदान किया जाता है। परन्तु शहर में ऐसी कोई योजना नहीं है। इसलिए राजस्थान द्वारा देश का पहला शहरी रोजगार गारंटी योजना “Indira Gandhi Shahari Rojgar Guarantee Yojana : IRGYurban” प्रारम्भ किया गया है।

आज हम इस लेख में इस योजना की विस्तृत जानकारी जैसे योजना का प्रारम्भ, उद्देश्य, लाभ एवं लाभार्थी, आवेदक की पात्रता, आवश्यक दस्तावेज आदि देखेंगे।

साथ ही हम इंदिरा गांधी शहरी रोजगार योजना ऑनलइन आवेदन प्रक्रिया भी देखेंगे। इस लेख के बाद आपको आवेदन के लिए CSC अथवा eMitra पर पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

आप लेख को अंत तक पढ़ें:

Contents hide

Indira Gandhi Shahari Rojgar Guarantee Yojana Bharti 2022-23

indira gandhi shahari rojgar yojana

राजस्थान बजट 2022-23 जो कि 23 फरवरी 2022 को बताया गया था इसी दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार गारंटी योजना की घोषणा की थी।

इस घोषणा दौरान अशोक गहलोत जी ने कहा था:

“अब मैं, शहरों में भी रोजगार सुनिश्चित करने के लिए ‘इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना’ लागू करने की घोषणा करता हूँ। इस योजना के माध्यम से आगामी वर्ष से शहरी क्षेत्र में निवास करने वाले परिवारों को भी उनके द्वारा मांगे जाने पर प्रतिवर्ष 100 दिवस का रोजगार उपलब्ध हो सकेगा।”

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (राजस्थान बजट 2022-23)

राजस्थान बजट 2022-23 में योजना के घोषणा के बाद ‘इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना’ को 12 जून 2022 को पुरे राज्य में लागु एवं प्रारम्भ किया गया तथा आवेदन के लिए ऑनलाइन पोर्टल irgyurban.rajasthan.gov.in प्रारम्भ किया गया।

Indira Gandhi Shahari Rojgar Guarantee Yojana यह महात्मा गांधी नरेगा योजना राजस्थान से भिन्न है। इस योजना के अंतर्गत मनरेगा से भिन्न मजदूरी प्राप्त होती है।

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना 2022 का उद्देश्य

राजस्थान के Indira Gandhi Shahari Rojgar Yojana का उद्देश्य शहर में रह रहे गरीब, बेरोजगार तथा कम आय वाले परिवार को नरेगा योजना के सामान प्रति वर्ष 100 दिन का गारंटी रोजगार प्रदान करना है। प्रतिदिन मजदूरी रु 260-रु330 है।

ये भी पढ़े:

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना 2022 के हाइलाइट्स

योजना का नामइंदिरा गाँधी शहरी रोजगार गारंटी योजना (irgyurban)
प्रारम्भ12 जून 2022
राज्य राजस्थान
किसने प्रारम्भ कियामुख्यमंत्री अशोक गहलोत
उद्देश्यशहर में प्रति वर्ष 100 दिवस का गारंटी रोजगार
लाभार्थीशहर के बेरोजगार एवं कम आय वर्ग के परिवार
आवेदन ऑनलाइन
अंतिम तारीखआवेदन हमेशा किया जा सकता है।
आधिकारिक वेबसाइटirgyurban.rajasthan.gov.in

इन जानकारी को आप हमारे Web Stories में भी देख सकते है। Indira Gandhi Rojgar Yojana Web Story

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना 2022 की विशेषता एवं लाभ की जानकारी

indira gandhi rojgar yojana

18-60 वर्ष के व्यक्ति होंगे पात्र

इस IRGYUraban Scheme के अनुसार शहर के केवल वयस्क व्यक्ति ही योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकता है, एवं काम पा सकता है।

योजना के अंतर्गत 18 वर्ष से, एवं 60 तक के व्यक्ति आवेदन कर सकते है। आपकी उम्र की पात्रता के साथ आपका स्वास्थ्य भी अच्छा होना आवश्यक है।

15 दिन में रोजगार प्राप्त होगा

इंदिरा रोजगार योजना के अंतरगत एक वर्ष में 100 दिन का गारंटी रोजगार प्रदान किया जाता। जब आप इस योजना को आवेदन करते है तो आपको आवेदन के 15 दिनों में रोजगार प्राप्त हो जाता है।

आप अपना ऑनलाइन आवेदन स्वयं IRGYUraban पोर्टल से कर सकते है, साथ ही नजदीकी ई-मित्र कीओस्क से भी ऑनलाइन आवेदन करा सकते है।

आवेदक को इंदिरा गाँधी शहरी योजगार गारंटी योजना जॉब कार्ड (IRGYUraban Job Card) भी प्राप्त होगा जिसे आप ऑनलाइन पोर्टल से डाउनलोड कर सकते है।

800 करोड़ की योजना

Rajasthan Budget 2022-23 में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने योजना की घोषणा की थी। उन्होंने बताया कि इस योजना जो “देश की सबसे बड़ी योजना है” इसके अंतर्गत प्रतिवर्ष 800 करोड़ रूपए का बजट तय किया गया है।

इस बजट से योजना का पूरा क्रियान्वयन किया जाएगा। इस योजना की तारीफ राहुल गाँधी द्वारा भी की गयी थी। इसे आप चित्र में देख सकते है:

प्रति मजदूरी रु 333 तक

जयपुर. शहरी बेरोजगारों को शहर में ही रोजगार देने की इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना को वित्त विभाग ने मंजूरी दे दी है। इसके तहत 100 दिन का गारंटी रोजगार मिलेगा।

इसमें अकुशल श्रमिक को 259 रुपए, अर्द्धकुशल को 271, कुशल को 283 और उच्च कुशल श्रमिक को 333 रुपए न्यूनतम मजदूरी मिलेगी।

आवेदकप्रतिदिन मजदूरी (न्यूनतम)
अकुशलरु 259
अर्ध-कुशलरु 271
कुशलरु 283
उच्च कुशलरु 333

सामग्री एवं पारिश्रमिक का वितरण अनुपात

सीएम अशोक गहलोत ने बताया कि योजना कार्यो के लिए सामग्री के लागत का मजदूरी (पारिश्रमिक labour charge) के साथ अनुपात में कार्यान्वनित होगा। यह कार्य सामान्य एवं विशेष दो प्रकार के है। इसी अनुसार सामग्री : पारिश्रमिक अनुपात तय होगा।

सामान्य कार्य (जैसे गटर-नाली सफाई, सार्वजनिक शौचालय, तालाब-पोखरा सफाई आदि) के लिए सामग्री तथा पारिश्रमिक का अनुपात 25:75 रखा गया है। क्योंकि इसके अंतर्गत श्रमिक (अकुशल अथवा अर्धकुशल) लगते है, परन्तु ये अधिक होते है।

वही विशेष कार्य जैसे (बागवानी, रेशम उत्पादन, वृक्षारोपण और कृषि वानिकी, पक्का सड़क निर्माण आदि) के लिए सामग्री तथा पारिश्रमिक का अनुपात 75:25 रखा गया है। क्योंकि इसके अंतर्गत उच्च सामग्री घटक का उपयोग किया जाता है तथा कुशल श्रमिक की आवश्यकता होती है।

15 दिन के अंतर्गत पैसे बैंक खाता में

योजना के अंतर्गत आपको आवेदन के बाद जब कार्य प्रदान किया जाता है , तो उसके बाद आप पंद्रह दिवस कार्य करते है। इन पंद्रह दिवस का मजदूरी आपको सीधे बैंक में प्रदान किया जाता है।

आवेदककुल 15 दिवस की मजदूरी (न्यूनतम)
अकुशलरु 3,885
अर्ध-कुशलरु 4,065
कुशलरु 4,245
उच्च कुशलरु 4,995

IRGYUraban MIS Portal

IRGYUrban अर्ताथ Indira Gandhi Rojgar Yojana Urban नामक एक ऑनलाइन पोर्टल योजना के क्रियान्वयन, डाटा उपलब्ध करने तथा नागरिको को योजना के बारे में जानकारी एवं पारदर्शिता के लिए चालू किया गया है।

यह ऑनलाइन पोर्टल है जिसकी वेबसाइट irgyurban.rajasthan.gov.in है। इसके अंतर्गत योजना की जानकारी, योजना संबंधित बदलाव, अपडेट तथा ऑनलाइन आवेदन की सुविधा है।

मनरेगा को फायदा (125 दिन रोजगार)

मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि अब राजस्थान के अंतर्गत मनरेगा योजना में 25 दिन रोजगार बढ़ाया जाएगा। अर्ताथ अब राजस्थान में मनरेगा के तहत 125 दिन गारंटी रोजगार प्राप्त होगा।

साथ ही उन्होंने कहा है कि इससे प्रति वर्ष 750 करोड़ का खर्च आएगा। यह खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

आप राजस्थान में मनरेगा के तहत कितना रूपए प्राप्त होता है यह निचे के लेख में जान सकते है , साथ ही राजस्थान मनरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2022 भी देख सकते है।

Indira Gandhi Shahari Rojgar Guarantee Yojana 2022-23 Work List

इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत सामान्य एवं विशेष दो प्रकार के कार्य अकुशल, अर्धकुशल, कुशल एवं उच्च कुशल इस प्रकार के श्रमिक से कराये जाते है।

यहाँ आप निचे इंदिरा गाँधी रोजगार योजना कार्य लिस्ट देख सकते है:

 पर्यावरण संरक्षण कार्य

  • सार्वजनिक स्थानो पर वृक्षारोपण का कार्य।
  • उद्यान (गार्डन) रख-रखाव सम्बन्धी कार्य।
  • फुटपाथ, डिवाईडर व अन्य सार्वजनिक स्थान पर लगे हुये पौधों को पानी देने का कार्य।
  • उद्यानिकी व कृषि विभाग के अधीन नर्सरी मे पौधे तैयार करने का कार्य।
  • उद्यानिकी (Horticulture) से सम्बन्धी कार्य।

जल संरक्षण सम्बन्धी कार्य

  • तालाब, बावड़ी से मिटटी निकालने का कार्य।
  • साथ ही इनकी सफाई का भी कार्य।
  • रेन वाटर हार्वेस्टिंग का निर्माण करना।
  • जल सरंक्षण के लिए जागरूकता के कार्य करना।
  • इन जल सरंक्षण माध्यमों का समय-समय पर रख-रखाव करना।

स्वच्छता एवं सेनिटेशन सम्बन्ध कार्य

  • ठोस कचरा ( कांच, प्लास्टिक की बनी वस्तुएं, इलेक्ट्रॉनिक के सामान) प्रबंधन का कार्य करना।
  • डंपिंग साइट पर कचरे का पृथकरण
  • नाला-नालियों के सफाई का कार्य।
  • सड़क के पास झाड़ियों एवं घास के सफाई का कार्य।

अन्य दूसरे कार्य

  • सम्पत्ति विरूपण रोकने से सम्बन्धी कार्य
  • कन्वर्जेन्स कार्य
  • सेवा सम्बन्धी कार्य
  • हेरिटेज संरक्षण से सम्बन्धित कार्य
  • अन्य कार्य

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना भर्ती 2022

यदि आप इंदिरा Indira Gandhi Shahari rozgar Yojana Form PDF ढूंढ रहे है, तो हम आपको बता दें कि आप अपना इंदिरा गांधी शहरी रोजगार योजना आवेदन पत्र स्वयं ऑनलाइन भर सकते है।

इसके लिए आप आधिकारिक वेबसाइट पर गाइड की मदद ले सकते है, अथवा आप इसे निचे दर्शाये स्टेप अनुसार भी कर सकते है।

इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार योजना में आवेदन के स्टेप ये है:

  • अधियकारिक वेबसाइट पर जाना।
  • जनाधार कार्ड द्वारा आवेदन करना।
  • जॉब कार्ड के लिए आवेदन करना एवं फॉर्म भरना
  • पात्र परिवार सदस्य का चयन करना (18-60 वर्ष)
  • जॉब कार्ड डाउनलोड करना

चलिए इन स्टेप को चित्र के माध्यम से देखते है:

स्टेप1: irgyurban.rajasthan.gov.in पर जाए एवं कार्य के लिए आवेदन करें

IRGYUrban Rajasthan Gov In
  • आप सबसे पहले योजना के आधिकारिक वेबसाइट irgyurban.rajasthan.gov.in जाएँ।
  • आप वेबसाइट पर यहाँ क्लिक कर भी जा सकते है : IRGYUrban Rajasthan Gov In
  • अब आप होमपेज पर आएंगे।
  • होमपेज पर आप “कार्य हेतु आवेदन” पर क्लिक करें।

स्टेप2: अपना जनाधार कार्ड नंबर दर्ज करें

जनाधार दर्ज करें
  • अब आप इस पेज पर अपना Janadhar Card Number दर्ज करें।
  • अब आप लॉगिन करें बटन पर क्लिक करें।
  • आपके जनाधार से जुड़े मोबाइल नंबर एक OTP प्राप्त होगा।
  • इस ओटीपी को दर्ज करें।
  • अब आप IRGYUrban Rajasthan Gov In पर Login हो जाएंगे।
  • आपका होमपेज बदला नजर आएगा। अब आप अपने डैशबोर्ड में प्रवेश करेंगे।

स्टेप3: डैशबोर्ड से “Job Card” के लिए आवेदन करें

  • अब आप अपने डैशबोर्ड में प्रवेश करेंगे।
  • इस डैशबोर्ड में “जॉब कार्ड के लिए आवेदन करें” पर क्लिक करें।
  • आप चित्र में देख सकते है।
जॉब कार्ड आवेदन करें

स्टेप4: इंदिरा गाँधी रोजगार योजना फॉर्म भरें

  • अब आपके सामने एक फॉर्म आएगा। यह फॉर्म चार खंड में बंटा है।
    • जनाधार का विवरण
    • आवेदक का विवरण
    • परिवार का विवरण
    • अंतिम घोषणा
  • आप सबसे पहले अपना जनाधार विवरण जांच लें एवं प्रक्रिया में आगे बढ़ें।
इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार योजना आवेदन फॉर्म
  • आवेदक का विवरण का कुछ जानकारी “जनाधार” से डिफ़ॉल्ट मिल जाता है।
  • आप अपने नजदीक का Zone चुन लें।
  • अब आप अपने परिवार के सदस्य में से पात्र सदस्य जो कार्य करना चाहते है, उन्हें चुने।
indira gandhi rojgar yojana select family member

स्टेप5: डाउनलोड इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार जोकार्ड

indira gandhi rojgar yojana job card
  • अंत में आपको “आवेदन जमा करें ” के लिए अंतिम सबमिट करें।
  • अब आप अपना जॉब कार्ड डाउनलोड कर सकते है। (चित्र देखें)

इंदिरा गाँधी शहरी रोजगार सहायक का कार्य क्या होता है? [महत्पूर्ण प्रश्न]

चूँकि इंदिरा गाँधी शहरी योजगार योजना है मनरेगा के मॉडल पर ही काम कर रही है , बस इसे शहर में इम्प्लीमेंट किया जा रहा है।

जिस तरह मनरेगा के लिए Gram Rojgar Sahayak कार्य करता है उसी प्रकार इंदिरा शहरी रोजगार योजना में Shahri Rojgar Sahayak कार्य करता है।

  • समय-समय पर रोजगार दिवस (रोजगार दिवस) आयोजित करके जागरूकता पैदा करना।
  • यह सुनिश्चित करना कि सभी कमजोर परिवारों का मनरेगा के तहत काम करने की इच्छा जानने के लिए सर्वेक्षण किया जाए;
  • पंजीकरण की प्रक्रिया की देखरेख, जॉब कार्डों का वितरण, नौकरी के आवेदनों के खिलाफ दिनांकित रसीदों का प्रावधान, आवेदकों को काम का आवंटन आदि;
  • ग्राम सभा की बैठकों और सामाजिक अंकेक्षण की सुविधा प्रदान करना;
  • कार्यों की योजना और निष्पादन में एकीकृत प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन अभ्यास सुनिश्चित करना;
  • कार्यस्थल पर निर्धारित मस्टर रोल में प्रतिदिन स्वयं या साथी के माध्यम से श्रमिकों की उपस्थिति दर्ज करना;
  • भुगतानों को संसाधित करने के लिए भरे हुए मस्टर रोल को समय पर जमा करना;
  • यह सुनिश्चित करना कि श्रमिकों के प्रत्येक समूह के लिए कार्य स्थल पर ग्रुप मार्क आउट दिया जाता है ताकि श्रमिकों को पता चले कि हर दिन मजदूरी दर अर्जित करने के लिए आवश्यक आउटपुट दिया जाना है।

FAQs: इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना क्या है?

इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत कार्डधारी परिवार को 100 दिवस का रोजगार और पात्रता की बात करे तो इस योजना में कार्डधारी परिवार के 18 वर्ष से 60 वर्ष की आयु के सभी लोग पात्र होंगे।

 शहरी रोजगार सहायक का क्या कार्य होता है?

शहरी रोजगार सहायक का कार्य एक सहायक के जैसा होता है।लेकिन इस योजना के तहत प्रतिदिन 259 रुपए मिलेंगे।

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना कब शुरू की गई?

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (Indra Gandhi Rojgar Yojana) 2 oct 2009 शुरू किया गया।

Leave a Comment

error: Content is protected !!
YouTube